Socialize

test

Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

Friday, December 27, 2019

इ-सिगरेट क्या है ? इसे भारत में क्यों बैन किया गया है|| What is E-Cigarette and why its ban in india

इ-सिगरेट क्या है ? इसे भारत में क्यों बैन किया गया है || E-Cigarette Kya Hai Ise bharat me kyu Ban kiya gya hai .






 E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette
 E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette

दोस्तों सिगरेट तो आप सब जानते ही होंगे क्या होती है। और कैसे इसे 

भरी मात्रा में लोग इस्तेमाल करते हैं उसी तरह इस टेक्नोलॉजी के युग 

में बनायीं गयी है इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट यानि की (E-Cigarette) जी हाँ 

दोस्तों जैसे नार्मल सिगरेट में तो हम सब जानते है की उसमे तम्बाखू का 

इस्तेमाल किया जाता है जो की हमारे शरीर के लिए बहुत ही घातक होती 

है उसी तरह इस इ सिगरेट में तम्बाखू की जगह निकोटिन के घोल का 

इस्तेमाल किया जाता है। 

E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette
 E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette

अब दोस्तों बात कर लेते हैं की इन दोनों सिगरेट में कौन ज्यादा सही है 

अब अगर बात करें  इन दोनों के कम्पेरिज़न की तो इ सिगरेट कम 

नुकसानदेह है नार्मल सिगरेट के मुकाबले पर ये तो आप सब जानते हैं 

की सिगरेट पीना अपने ही पैरो में कुल्हाड़ी मारने के बराबर है पर आज 

कल लोगो के ये बात समझ नहीं आती उन्हें लगता है की सिगरेट पीने से 

उनके शरीर पे कोई असर नहीं पड़ता असल बात यो ये है की उन्हें भी 

कही न कही पता ही होता है पर उन्हें इतनी बुरी लत लग चुकी होती है 

की वो इस बात को मानने से ही इंकार कर देते हैं पहले तो लोग इसे 

शौक में पीते है लोगो को दिखाने के लिए उन्हें ऐसा लगता है की सिगरेट 

पीने से वो ज्यादा कूल दिखेंगे ज्यादातर ऐसा चार पांच दोस्तों के ग्रुप में 

होता है की अगर एक बंदा सिगरेट नहीं पी रहा तो उसका मज़ाक बनाया 

जाता है की तू तो मर्द नहीं है या ये नहीं है वो नहीं है ऐसा बोल के लोग 

ज्यादा महान बनने की कोसिस करते हैं और इसी तरह में लोग सिगरेट 

दिखाने के लिए पीने लगते हैं और फिर दिखाते दिखाते ये एक बुरी आदत 

में बदल जाती है। और हम सब ये अच्छे से जानते हैं की सिगरेट का धुआँ 

बहुत ही भयानक होता है और इससे कैंसर होता है पर लोगो को मरना 

मंजूर है पर सिगरेट छोड़ना मंजूर नहीं  खैर जाने दीजिये लोगो को कभी 

भी समझ आएगा नहीं और न ही कुछ बदलेगा लोग ऐसे ही धीरे धीरे 

अपने ही हाथो अपने आप को मारते रहेंगे। खैर मै आपको ये बताने आया 

हूँ की E-Cigarette होता क्या है तो चलिए बताते है आपको 

E-Cigarette के बारे में। 


E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette
E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette


E-Cigarette कैसे  काम करती है। 


E-Cigarette का बाहरी भाग सिगरेट और सिगार की तरह बनाया गया 

है। ये एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो सिगरेट की तरह दिखती हैं। इसमें 

तम्बाखू की जगह लिक्विड भरा जाता है जिसे निकोटिन कहते है। इसमें 

निकोटिन के साथ साथ अन्य रसायनयुक्त तरल भी डाला जाता है जो 

हरमे शरीर के लिए बिलकुल भी अच्छा नहीं है। E-Cigarette में लगी 

बैटरी इसके अंदर के घोल को धुआँ में परिवर्तित कर देती है जैसे नार्मल 

सिगरेट का धुआँ होता है उसी तरह इसमें भी होता है और इसे भी फेफड़े

तक ले जाया ज्जा सकता है इसी कारण इसे पीने वाले लोगो को ऐसा 

महसूस होता है की जैसे वो असली सिगरेट पी रहें हों। 

E-Cigarette के नुक्सान। 

दोस्तों वैसे तो सभी सिगरेट के नुकसान ही होते हैं पर इसके भी कुछ 

ज्यादा भयंकर परिणाम हैं पहले तो वही वाले परिणाम जो नार्मल 

सिगरेट से होते हैं बस अगर नार्मल सिगरेट से ये धुए के मामले में थोड़ा 

कम नुकसानदेह होती है क्युकी उसमे तम्बाखू का इस्तेमॉल होता है 

और इसमें निकोटिन के घोल का पर इसका मतलब ये नहीं की ये कम 

नुकसानदेह है। तम्बाखू और निकोटिन में तम्बाखू ज्यादा खतरनाक होती 

है पर E-Cigarette में और भी केमिकल का उपयोग होता है इसलिए 

ये भी शरीर के लिए बहुत खतरनाक है। और E-Cigarette के कुछ 

ब्रांड तो फार्मलडेहाइड का इस्तेमाल करते हैं जो की बेहद खतरनाक 

और कैंसरकारी होता है। E-Cigarette का धुआँ फेफड़ों की कोशिकाओं 

को नुकसान पहुंचाता है और इसका धुआँ मसूड़े और दांतो के लिए भी 

हानिकारक है क्युकी इसमें और भी केमिकल होते हैं। इससे निकोटिन 

की लत लग जाती है और निकोटिन खुद में ही एक नशीला पदार्थ है 

अगर इसकी लत लग गयी तो बिना इसका सेवन किये रह पाना मुश्किल 

हो जाता है। और जो लोग E-Cigarette का ज्यादा इस्तेमाल करते है 

उनको दिल का दौरा पड़ने की सम्भावना भी बहुत बढ़ जाती है और 

लम्बे समय तक इस्तेमाल करने से खून के थक्के बन जाते हैं और कैंसर 

भी हो जाता है। 


E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette
E-Cigarette-Kya-Hai-what-is-E-cigarette


E-Cigarette को क्यों बैन किया गया है (E-Cigarette क्यों बन है )


E-Cigarette को भारत से पहले न्यू यॉर्क में बैन कर दिया गया था क्युकी 

यहाँ पर E-Cigarette का चलन कुछ ज्यादा ही बढ़ गया  था यहाँ के 

युवाओ पर इसका बुरा असर पड़ रहा था जिसके कारण यहाँ फेफड़ों से 

जुडी बीमारियां बढ़ने लगी थी और लोगो में डिप्रेशन की समस्या भी 

दोगुनी हो गयी थी। इस लिए लिए इसे बैन कर दिया गया। और इसी 

कारण भारत में भी बैन कर दिय गया  E-Cigarette को पीने से हार्ट 

अटैक की सम्भावना 56 % तक बढ़ जाता है। 


E-Cigarette बैन के नियम 

पहली बार बैन का उल्लंघन  करने पर यानि पहली बार E-Cigarette

का इस्तेमाल करने पर 1 लाख का जुर्माना और 1 साल की सजा हो 

सकती है। और अगर आप बार बार नियम का उल्लंघन करते हैं तो 

5 लाख का जुर्माना और 3 साल की जेल हो सकती है। 



दोस्तों आखिरी में मई तो ये ही कहूंगा की आप कभी भी किसी भी तरह 

की नशे की लत में न पड़ें फिर चाहे वो सिगरेट हो या E-Cigarette या 

फिर अलकोहल ये सब आपके स्वस्थ सरीर को बर्बाद कर देती हैं और 

आपका जीवन नस्ट कर देती हैं तो हमेशा पौस्टिक भोजन करें और अपने 

शरीर को हमेशा स्वस्थ्य रखे इस तरह के किसी भी उपकरणों का 

इस्तेमाल करने से बचें। 

आशा करता हु आपको ये जानकारी पसंद आयी होगी अपने दोस्तों 

के साथ जरूर शेयर करें। 



                                  Dhanyawaad




No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages